देश

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी करेगा कोरोना का ट्रायल, मोदी सरकार ने सौपी बड़ी जिम्मेबारी !

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी करेगा कोरोना का ट्रायल, मोदी सरकार ने सौपी बड़ी जिम्मेबारी !

उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी को कोरोना वायरस वैक्सिन के ट्रायल को लेकर बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है। यह जिम्मेदारी मोदी सरकार की तरफ से दी गई है। दरअसल भारत सरकार ने उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल को कोरोना वैक्सीन के ट्रायल की जिम्मेवारी सौंपी है। कोरोना वैक्सीन के ट्रायल का काम 14 नवंबर से शुरू  होने जा रहा है। यह जिम्मेदारी इंडियन काउंसिल मेडिकल रिसर्च के द्वारा इन्हें दी गई है।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पीआरओ सलीम पीरजादा के द्वारा जानकारी दी गई कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए हमेशा से AMU कोशिश करती रही है। अब जो AMU को जिम्मेदारी दी गई है वह  बेहद ही चुनौतीपूर्ण है, जिसका काम शुरू कर दिया गया है। उन्होने कहा कि 10 नवंबर को कोरोना वैक्सीन की ट्रायल के लिए लोगों को यहां बुलाया जाएगा। इसके लिए 1000 लोगों की जरूरत पड़ेगी, जो भी लोग इसमें शामिल होना चाहते हैं वह चाहे तो अपना रजिस्ट्रेशन भी करा सकते हैं।

आगे उन्होंने कहा कि जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का लेवल 2 के अस्पताल है। भारत सरकार ने जिस तरह से बड़ी जिम्मेदारी हमें दी है यह हमारे लिए काफी खुशी की बात है। कोरोना वैक्सीन जिसका ट्रायल 14 नवंबर से शुरू होना है, इसका मुख्य मकसद कोरोना वैक्सीन की सेफ्टी को जांचना है।

इस तरह से हो सकते कोई भी शामिल

इस ट्रायल में भारत बायोटेक और इंडियन काउंसिल मेडिकल रिसर्च का भी  साथ रहेगा। अगर कोई व्यक्ति कोरोना वैक्सीन के ट्रायल मे अपना रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं तो वह 10 नवंबर को ओपीडी हॉल में अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। हमें उम्मीद है कि 1000 लोग इसमें शामिल जरूर होंगे। अगर कोई व्यक्ति इस बारे में जानकारी चाहते हैं तो वह हमें अपने मोबाइल नंबर 74550 21652 पर संपर्क कर सकते हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top