देश

क्या इंसानों में भी फैल सकता है बर्ड फ्लू? क्या कहते हैं वैज्ञानिक

क्या इंसानों में भी फैल सकता है बर्ड फ्लू? क्या कहते हैं वैज्ञानिक

नई दिल्ली. देश में बर्ड फ्लू (Bird Flu) का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है. अब तक 7 राज्यों इसकी पुष्टि हो चुकी है. चिंता की बात ये है कि तेज़ी से ये फ्लू देश के अलग-अलग इलाकों में फैल रहा है. अब तक जिन राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है वो है- केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और उत्तर प्रदेश. इसके अलावा कई राज्यों से पक्षियों की मरने की खबरें लगातार आ रही हैं. यानी अगले कुछ हफ्तों में कई और राज्यों में ये फैल सकता है. देश के कई चिकन मार्केट को एहतियातन बंद कर दिया गया है. सवाल उठता है कि क्या इसका खतरा इंसनों (Transmit to Humans) पर भी है.

बर्ड फ्लू में जो वारयस पाए जाते हैं उसे H5N1 का नाम दिया गया है. वैज्ञानिकों के मुताबिक ये वारस पक्षियों से इंसानों में फैल सकता है. लेकिन इसकी संभावना काफी कम होती है. वैसे कई तरह के बर्ड फ्लू होते हैं. ज्यादातर ये वायरस इंसानों को नुकसान नहीं पहुंचाते हैं. लेकिन वैज्ञानिकों का मानना है कि अगर कोई व्यक्ति लंबे समय तक संक्रमित पक्षियों के बीच रहता है तो फिर उन्हें बर्ड फ्लू अपनी चपेट में ले सकता है.

24 साल से डरा रहा है बर्ड फ्लू!

पहली बार इंसानों में H5N1 के संक्रण की खबर साल 1997 में हॉन्ग कॉन्ग से आई थी. पोल्ट्री फार्म में काम करने वाले एक शख्स इसकी चपेट में आए थे. साल 1918 में स्पैनिश फ्लू से दुनिया भर में लाखों लोगों की मौत हुई थी. कहा जाता है कि ये संक्रमण पक्षियों से ही फैला था. राहत की बात ये है कि फिलहाल भारत से बर्ड फ्लू से इंसानों में संक्रण की कोई खबर नहीं आई है. ये आमतौर पर एक पक्षी से दूसरे में तेज़ी से फैलता है.
ये भी पढ़ें:- दिल्‍ली में भी बर्ड फ्लू की दस्‍तक, 5 कौवे और 3 बत्‍तखों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

क्या चिकन खाना सुरक्षित है?

वैज्ञानिकों और डॉक्टरों का कहना है कि चिकन और अंडे खाने में कोई खतरे की बात नहीं है. बशर्ते की उसे अच्छी तरह पकाया गया हो.

बर्ड फ्लू का कहर

भारत में पहली बार साल 2004 में बर्ड फ्लू फैला था. तब से लेकर अब भारत में 24 बार बर्ड फ्लू आ चुका है. आखिरी बार साल 2016 में बर्ड फ्लू से लाखों पक्षियों की मौत दिल्ली, केरल पंजाब और मध्य प्रदेश में हुई थी. डॉक्टरों के मुताबित बर्ड फ्लू के संक्रमण में मौत की दर करीब 60 फीसदी है. देश में अब तक करीब 83 लाख पक्षियों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top