देश

3 मई के बाद भी जारी रहेगा लॉक डाउन ?जाने मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक मे क्या हुआ!

3 मई के बाद भी जारी रहेगा लॉक डाउन?जाने मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक मे क्या हुआ!

3 मई को देश में लॉक डाउन समाप्त  होगा या जारी  रहेगा इस पर अभी  सनस्पेंस बना हुआ है .पीएम मोदी के साथ आज मुख्यमंत्रियों के ठक में देश के कई राज्यों के सीएम ने 3 मई के बाद भी लॉक डाउन बढ़ाने की अपील की है वहीं मुख्यमंत्रियों के साथ इस बैठक में इस बात पर भी सहमति बनती दिखी  की लॉकडाउन में अचानक जो ढ़ील दी गई है वह सही नहीं है इस बैठक में कहा गया कि इस लॉकडाउन के कारण देश को काफी लाभ हुआ है। आज भारत की स्थिति दूसरे देशों की तुलना में काफी अच्छी इस लॉक डाउन के कारण ही है। पीएम मोदी ने भी कहा कि कोरोना के साथ यह लड़ाई  धैर्यपूर्वक लड़ना होगा.

जान भी और जहान भी

प्रधानमंत्री मोदी जी ने कहा कि देश में लॉकडाउन के कारण बिल्कुल ही असर हुआ है। कोरोना के मामले में उतना ज्यादा व्यापक असर अपने देश पर देखने को नहीं मिला है। लेकिन अब जान भी और जहान भी की बात को देखते हुए 3 मई के बाद सतर्क रणनीति बनाकर लोगों की आजीविका पर भी ध्यान देने की जरूरत है।पीएम मोदी ने कहा कि करुणा के बीच अभी लंबी लड़ाई चलेगी जिसको हम लोगों को धैर्य पूर्वक लड़ना है।

10 मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन को बढ़ाने के पक्ष

बता दें कि पीएम मोदी के साथ मुख्यमंत्रियों की बैठक में 10 राज्यों के मुख्यमंत्री ने लॉक  डाउन को बढ़ाने की बात की है।इन मुख्यमंत्रियों में से वैसे मुख्यमंत्री थे जहां अभी भी करोना के काफी अधिक मामले में मिल रहे हैं।इसमें दिल्ली गुजरात मध्य प्रदेश जैसे राज्य भी शामिल है।वहीं तेलंगाना ने पहले ही 7 मई तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ाने का ऐलान कर दिया है।

सूत्रों के अनुसार पता चला है कि 3 मई के बाद लॉक डाउन पर अभी पूरी तरह फैसला नहीं हो पाया है। परंतु मुख्यमंत्रियों और पीएम की बैठक में यह सहमति बन पाई कि 3 मई के बाद अचानक ढील नहीं दी जाए।  

3 ज़ोन में बांटने की बात

पूरे देश को 3 ज़ोन में बांटने की भी बात सामने आई है।पूरे देश को रेड जोन,यैलो और ग्रीन जोन में बांटने की बात सामने भी रखी गई है। रेड जोन में पूरी पाबंदी रहेगी येलो जोन में कुछ रियायत मिल सकती है वहीं ग्रीन जोन में कोई पाबंदी नहीं रहेगी परंतु सोशलडिस्टेंसिंग का पालन इसमें भी करना पड़ेगा। वही रेलवे हवाई और यात्राओं के लिए अभी कोई रियायत मिलने की उम्मीद नहीं नजर आ रही है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top